1999 समििरण नेमावर प्रवचन